बड़ी खबर

बाराबंकी में सड़क हादसे में पाचं बच्चों की मौत, 34 से अधिक घायल

बाराबंकी। सरकारी स्कूल के बच्चों को चिड़ियाघर से लेकर लौट रही एक बस बाइक को टक्कर मारने के बाद पलट गई। देवा कोतवाली क्षेत्र में हुए इस हादसे में तीन छात्राएं और बस मालिक के पुत्र की मौत हो गई जबकि छह शिक्षक समेत 15 घायल हो गए। दुर्घटनाग्रस्त बस में 42 बच्चे सवार थे जिसमें तीन की मृत्यु हुई। दो गंभीर बच्चों को लखनऊ रेफर किया गया है। तीन जिला अस्पताल में भर्ती हैं। 34 बच्चों का सीएचसी देवा में इलाज चल रहा है।
मंगलवार को सूरतगंज ब्लॉक के कंपोजिट विद्यालय हरक्का से 40 बच्चों को शैक्षिक भ्रमण के लिए एक निजी बस से लखनऊ के चिड़ियाघर ले जाया गया था। बच्चों की देखरेख में छह अध्यापक भी गए थे। शाम करीब साढ़े चार बजे बस बच्चों को लेकर सूरतगंज लौट रही थी। शाम करीब पौने छह बजे देवा फतेहपुर मार्ग सलारपुर गांव के पास आदर्श कॉलेज के सामने बस के सामने अचानक एक बाइक सवार आ गया। बस ने बाइक को टक्कर मारी और लहराते हुए सड़क के करीब 60 फिट तक घिसटती चली गई और फिर पलट गई। हादसा होते ही घटनास्थल पर चीख-पुकार मच गई। स्थानीय लोगो ने बच्चों को बस से निकालना शुरू किया और पुलिस भी मौके पर पहुंची।
इस दौरान बस में सवार मोहम्मदपुर खाला थाना क्षेत्र के मदरहा गांव की कामिनी (14), हिमांशी (14), शुभी (14) व बस मालिक के पुत्र असंद्रा के सिद्धौर कस्बा निवासी सूफियान (38) की मौके पर ही मौत हो गई जबकि छह शिक्षकों समेत 15 अन्य घायल हुए। अजय व प्रदीप को नाजुक हालत में जिला अस्पताल से केजीएमयू रेफर किया गया है। सूचना पर डीएम सत्येंद्र कुमार व एसपी दिनेश कुमार सिंह समेत पूरा प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंच गया।
सीएम ने जताया शोक, घायल बच्चों के समुचित उपचार के निर्देश
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाराबंकी में हुए सड़क हादसे का त्वरित संज्ञान लिया है। उन्होंने मृतक बच्चों के शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। साथ ही घायल बच्चों को तत्काल अस्पताल पहुंचाकर जिला प्रशासन के अधिकारियों को उनके समुचित उपचार के निर्देश दिए हैं। उन्होंने घायलों के जल्द स्वस्थ होने की भी कामना की है।
मुख्यमंत्री ने जिला प्रशासन के अधिकारियों को मौके पर पहुंचकर राहत कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। अपने शोक संदेश में सीएम ने कहा कि बाराबंकी में हुई सड़क दुर्घटना में बच्चों का निधन अत्यंत दुःखद है। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं। संबंधित अधिकारियों को घायल बच्चों के समुचित उपचार हेतु निर्देश दिए गए हैं। प्रभु श्रीराम दिवंगत आत्माओं को शांति तथा घायल बच्चों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button