अपराधलखनऊ

नवमीं के दिन सिलवटें से कूचकर पत्नी की हत्या और खुद लगाई फांसी

लखनऊ। तालकटोरा क्षेत्र में मंगलवार के दिन एक अधेड़ ने नवरात्रि के आखिरी दिन (नवमी) को अपने ही पत्नी की सिलवटें से कूचकर हत्या की और खुद भी फांसी पर झूल गया। जहां एक ओर कॉलोनी के लोग नवमी के दिन कन्याओं को भोग लगवा रहे थे। नवरात्रि का पर्व मना रहे थे। वहीं दूसरी ओर पुरुष ने अपनी पत्नी से आजिज होकर इतना बड़ा कदम उठाया। पति पत्नी की मौत के बाद अब शरद व अनिरुद्ध अनाथ हो गए हैं। घटना पूरे क्षेत्र में आग की तरह फैल गई। स्थानीय लोग मां दुर्गा से यही प्रार्थना करते रहे कि मां ऐसी घटना पुनः ना हो। घटना के बाद से पूरे क्षेत्र में शोक का माहौल है।
सरीपुरा केतनबिहार निवासी 50 वर्षीय ठेकेदार कुलवंत सिंह अपनी पत्नी पुष्पा बेटा शरद व अनिरूद्ध के साथ रहता था। मंगलवार सुबह बड़ा बेटा शरद सीएमएस स्कूल गया हुआ था और छोटा बेटा अनिरूद्ध पड़ोस में रहने वाले अपने दोस्त के घर गया हुआ था और गेट पर इंटरलॉक ताला लगा दिया। दोपहर लगभग सवा बारह बजे जब अनिरूद्ध घर वापस लौटा तो देखा कि मां पुष्पा खून से लथपथ फर्श पर पड़ी हुई थी और पिता कुलवंत ऑगन के जाल में प्लास्टिक की रस्सी के सहारे लटक रहा था। जिस पर अनिरूद्ध ने मामले की जानकारी जानकीपुरम विस्तार निवासी बुआ अंजू को दी। आनन फानन में अंजू ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। मौके पर पहॅुची पुलिस छानबीन में जुट गई। पुष्पा और कुलवंत का अक्सर किसी बात को लेकर विवाद होता रहता था। आज भी बेटा अनिरूद्ध सुबह 10 बजे अपने दोस्त के घर गया था उसके बाद घर में पुष्पा और कुलवंत के बीच कुछ वाद विवाद हुआ। विवाद इतना बढ़ गया कि कुलवंत ने सिल के बट्टे से पुष्पा के सिर पर वार कर हत्या कर दी और खुद आंगन के जाल में प्लास्टिक की रस्सी बांधकर फांसी लगा ली। 12 बजे जब अनिरुद्ध घर वापस आया तो मां को खून से लटपत और पिता को रस्सी से लटकता देख उसके होश उड़ गए तब उसने घटना की सूचना अपनी बुआ अंजू को दी बुआ अंजू द्वारा घटना की सूचना थाना तालकटोरा को दी गई वहीं घटना को लेकर मौके पर फारेंसिक टीम और डॉग स्काट मौके पर पहॅुचे और कई नमूने भी लिए। वहीं घटना पर डीसीपी राजेश एस चिनप्पा ,एडीसीपी चिरंजीव नाथ सिन्हा, एसीपी बाजारखाला सुनील कुमार शर्मा तालकटोरा पुलिस के साथ मौके पर पहॅुच गए और छानबीन में जुटे रहे। वहीं घटना को लेकर पति द्धारा पत्नी की हत्या और खुद फांसी लगाकर आत्महत्या की जानकारी होते ही इलाके में भीड़ जमा हो गई। मृतक कुलवंत मूलरूप से इलाहाबाद नैनी का रहने वाला था। वहीं घटना को लेकर मृतक कुलवंत की बहन अंजू ने तालकटोरा थाने पर तहरीर दी है। जिसमें अंजू ने लिखा है कि भाभी पुष्पा अन्दर के कमरे में खून से लथपथ पड़ी थी और भाई कुलवंत आंगन में रस्सी के सहारे फांसी लगा ली थी। साथ ही लिखा है कि ऐसा लगता है कि भाई कुलवंत ने पहले भाभी पुष्पा की हत्या की है और बाद में खुद फांसी लगा ली है। तालकटोरा पुलिस द्वारा दोनो डेड बोडियो का पंचनामा भर भेजा गया पोस्टमार्टम के लिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button