उत्तर प्रदेश

विकास आयुक्त ने ग्राम सभा पुरवा के विकास कार्यों का किया निरीक्षण

कछौना (हरदोई)। विकासखंड कछौना की ग्राम सभा पुरवा में एचसीएल फाउंडेशन द्वारा कराए जा रहे विकास कार्यों की जमीनी हकीकत को देखने ग्राम विकास आयुक्त जीएस प्रियदर्शी शुक्रवार को देखा। आयुक्त ने प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण किया। विद्यालय में स्मार्ट क्लासों को देखा, स्मार्ट क्लास में प्रोजेक्टर के माध्यम से नौनिहालों को शिक्षा दी जा रही है। कक्षों में पर्याप्त प्रकाश व्यवस्था न होने पर संबंधित अधिकारियों को प्रकाश व्यवस्था सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। जिससे छात्रों की आंखों की रोशनी पर दबाव न पड़े। इसके बाद ग्रामीणों के लिए हर घर जल योजना के तहत पेयजल के लिए समुदाय से संचालित पानी की टंकी का निरीक्षण किया। पानी की सप्लाई और घण्टे बढ़ाये जाने का निर्देश दिया। इसके बाद ग्रामसभा में ग्राम सभा के पानी व्यवस्था का संचयन के लिए तैयार किया सरोवर तालाब का निरीक्षण किया। तालाब में आउटपुट और इनपुट की जानकारी ली। वर्षा के पानी का ज्यादा से ज्यादा संचयन कर ग्रामीणों के उपयोग में आ सके, सुझाव दिया।केवल मॉडल बनकर नहीं रह जाएं।इसकी ज्यादा से उपयोग जल संचयन कर पशुओं को शुद्ध पानी पीने के लिए आ सके। इसके बाद महिला समूहों की महिलाओं से उनके अनुभव व समस्याओं की जानकारी ली। महिलाओं ने बताया उनके जीवन में बकरी पालन, मुर्गा पालन, हैंडीकैप, सिलाई कढ़ाई के आदि कार्यों से जिंदगी में काफी बदलाव आए हैं। कई महिलाओं ने अपनी परेशानी को भी बताया। निरीक्षण खाना पूर्ति तक सीमित रहा। फाउंडेशन के कर्मियों ने जो दिखाया वहीं अधिकारी ने फील गुड कर चले गए। ग्रामीणों की मूलभूत समस्याओं को जानना मुनासिब नहीं समझा। वाकई में करोड़ों रुपए की धनराशि खर्च होने के बाद भी आम आदमी अपने अधिकारों व योजनाओं का लाभ पाने के लिए संघर्ष कर रहा है। आज भी ग्रामीणों में बेरोजगारी, छुट्टा जानवर, स्वास्थ्य समस्याएं, अच्छी शिक्षा नहीं मिल रही है। ग्राम सभा में स्वास्थ्य उप केंद्र काफी जर्जर है। दीवार दरक चुकी है। पानी के लिए इंडिया मार्का नल खराब है। विद्युत कनेक्शन नहीं है। महिला स्वास्थ्य सेवाओं के लिए 10 किलोमीटर तक कछौना जाने को विवश है या फिर झोला छाप डॉक्टरों की शरण में जाने को विवश हैं। सामुदायिक शौचालय शोपीस बने हैं। पूर्व माध्यमिक विद्यालय पुरवा अध्यापक विहीन है। दूसरे स्कूल के अध्यापक संबद्ध कर 95 छात्रों को शिक्षा ऐनकेन प्रकारेण दी जा रही है। सफाई कर्मी नियमित रूप से नहीं आते हैं। निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा राणा, पीडी, डीसीएनआर, एटएम, डीपीआरओ, एचसीएल फाउंडेशन के हेड योगेश कुमार, कृति कर्मचंदानी, खंड विकास अधिकारी प्रमोद अग्रवाल, एडीओ पंचायत व ग्राम सचिव संतोष कुमार, ग्राम प्रधान छविनाथ, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, खंड विकास अधिकारी शशांक सिंह आदि मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button