अपराधलखनऊ

ब्लैकमेलिंग से परेशान किसान ने की थी आत्महत्या

पुलिस ने आरोपी दंपति को गिरफ्तार किया
लखनऊ। नगराम पुलिस ने किसान सहजराम को ब्लैकमेल करने और खुदकुशी के लिए विवश करने के आरोप में दम्पति को गिरफ्तार किया है। जिनके खिलाफ सितंबर 2022 में किसान की पत्नी ने मुकदमा दर्ज कराया था। आरोपी दम्पति ने एक लाख रुपये ऐंठने के साथ किसान पर एक बीघा जमीन उनके नाम करने के लिए कहा था। इस सम्बंध में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी दम्पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
इंस्पेक्टर विनोद तिवारी ने बताया कि 24 अगस्त की सुबह कुबहरा निवासी सहजराम का शव गांव के बाहर फंदे से लटकता मिला था। सहजराम ने फांसी लगाने से पहले पहनी हुई शर्ट पर महेश और उसकी पत्नी सुनीता का नाम लिखा था। पति का शव मिलने के बाद विनीता ने दम्पति के खिलाफ आत्महत्या के लिए विवश करने की धारा में मुकदमा दर्ज कराया था। इंस्पेक्टर के मुताबिक विवेचक दयाशंकर मिश्र ने जांच में महेश और सुनीता के खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य जुटाए। जिसके आधार पर मंगलवार सुबह दम्पति को दबोचा गया। छानबीन में पता चला कि किसान सहजराम को महेश अक्सर दावत देने के बहाने घर बुलाता था। वहां दोनों लोग शराब पीते थे। इस दौरान महेश की पत्नी ने सहजराम पर गलत काम करने का आरोप लगाया था। फिर पुलिस में शिकायत नहीं करने के एवज में एक लाख रुपये वसूलने के साथ ही एक बीघा जमीन उसक नाम करने के लिए कहा था। मांग पूरी नहीं होने पर दम्पति ने किसान को धमकाया था। जिससे आजिज होकर सहजराम ने फांसी लगा ली थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button