अपराधउत्तर प्रदेश

कुशीनगर : मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपये मुआवजे का एलान, घायलों का मुफ्त इलाज

कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर के नौरंगिया टोला गांव में बुधवार रात हादसे में मृतकों की संख्या 13 हो गई है। जिला प्रशासन ने इस हादसे में मृतक आश्रितों को जिला प्रशासन ने चार-चार लाख रुपया आर्थिक सहायता देने की घोषणा करने के साथ घायलों के निशुल्क इलाज की भी व्यवस्था की है। इसके साथ ही कुंआ में एसडीआरएफ की टीमें अभी भी शवों की तलाश में हैं।
कुशीनगर के जिलाधिकारी एस राजलिंगम ने बताया कि कुशीनगर के नौरंगिया टोला गांव में बुधवार रात स्लैप से ढका पुराना कुआं पर हो रहे पूजा-पाठ के दौरान वहां पर बच्चे और महिलाएं बैठे हुए थे। इस दौरान स्लैप नीचे चला गया और मलबा उनके ऊपर गिर गया। 13 लोगों की मौत हुई है और तीन लोगों की हालत गंभीर है। प्रत्येक मृतक के परिवार के लोगों को चार-चार लाख रुपए आर्थिक सहायता दी जाएगी।
कुशीनगर हादसे के मृतकों के परिवार के लोगों को दो-दो लाख रुपया और घायलों को 50-50 हजार की सहायता पीएम रिलीफ फंड से दी जाएगी। जिला प्रशासन से मृतकों के परिवार के लोगों को दो-दो लाख रुपया तथा घायलों को 50-50 हजार की सहायता मिलेगी। राषट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर अपनी संवेदना व्यक्त की है।
एडीजी गोरखपुर जोन अखिल कुमार भी कुशीनगर में कैंप कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि मौके पर राहत कार्य जारी है। एसडीआरएफ की टीमों का कुंआ में तलाशी अभियान जारी है। मृतकों में महिलाओं के साथ बालक व बालिकाएं भी हैं। घटना के समय सभी लोग एक परिवार में हल्दी की रस्म के उत्सव में चल रहा डांस देख रहे थे। कई थानों की पुलिस ने रेस्क्यू आपरेशन कर घायलों व शवों को बाहर निकाला। बताया जा रहा कुंए में दो-ढाई फीट तक पानी था। एक के ऊपर एक गिरने से हादसा गंभीर हो गया।
नौरंगिया के स्कूल टोला निवासी परमेश्वर कुशवाहा के पुत्र का गुरुवार को विवाह है। वैवाहिक रस्म के क्रम में महिलाएं हल्दी की रस्म अदायगी के दौरान गांव में स्थित कुआं पर मटकोड़ करने गई थीं। उनके साथ बच्चे भी गए थे। इसके बाद कुआं पर बने स्लैब पर खड़े होकर डांस देखने लगे। इस बीच स्लैब टूटकर कुएं में गिर पड़ा, जिससे उस पर सवार बच्चे समेत महिलाएं कुएं में गिरकर दब गए। घटना की सूचना मिलते ही कोहराम मच गया। सब लोग घटनास्थल की ओर दौड़ पड़े। पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से रेस्क्यू कर सबको बाहर निकाला। इसमें डेढ़ घंटे लग गए और तब तक काफी देर हो चुकी थी। 11 घायलों को जिला अस्पताल लाया गया, जहां उनको मृत घोषित कर दिया गया। उधर कोटवा सीएचसी में भर्ती दो बच्चों ने भी दम तोड़ दिया।
सीएमएस डा एसके वर्मा ने बताया कि पांच से 25 वर्ष के 11 लोगों सहित दो महिलाओं की मौत हो गई है। अन्य घायलों का इलाज चल रहा है। डीएम एस राजलिंगम व एसपी सचिन्द्र पटेल ने बताया कि इस लोमहर्षक घटना से सभी स्तब्ध हैं। जांच कराई जा रही है।
मृतक

1-पूजा पुत्री बलवंत यादव 19 वर्ष, निवासी नौरंगिया स्कूल टोला।
2-पूजा पुत्री राम बहाली चौरसिया 20 वर्ष।
3-शशि कला पुत्री मदन चौरसिया 15 वर्ष।
4-शकुंतला देवी पत्नी भोला चौरसिया 35 वर्ष।
5-ममता देवी पत्नी रमेश चौरसिया 35 वर्ष।
6-मीरा पुत्री सुभग विश्वकर्मा 25 वर्ष।
7-परी पुत्री राजेश चौरसिया 14 वर्ष।
8-ज्योति पुत्री रामबली चौरसिया 15 वर्ष।
9-राधिका पुत्री महेश कुशवाहा 16 वर्ष।
10-सुंदरी पुत्री प्रमोद कुशवाहा 8 वर्ष।
11-आरती पुत्री इंद्रजीत चौरसिया 15 वर्ष, निवासी गिदहा कसया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button